Kartik Aaryan Birthday: कार्तिक आर्यन के पापा चाहते थे उन्हें डॉक्टर बनाना, लेकिन कुछ ऐसी थी उनकी जिंदगी


कार्तिक आर्यन इंस्टाग्राम- इंडिया टीवी हिंदी न्यूज़
छवि स्रोत: कार्तिक आर्यन इंस्टाग्राम
कार्तिक आर्यन

कार्तिक आर्यन जन्मदिन: बॉलीवुड के यंग एक्टर्स में सबसे पॉपुलर सितारों की लिस्ट में शुमार कार्तिक आर्यन का 22 नवंबर को जन्मदिन है। उनकी छवि बॉलीवुड के धमाका ब्वॉय, चॉकलेटी ब्वॉय और लवर ब्वॉय की धूमिल हो गई है, हर दिन डैशिंग परस्नालिटी और किलर स्माइल पर लाखों-करोड़ों लोग अपना दिल हारते हैं। वो न सिर्फ एक शानदार अभिनेता हैं, बल्कि सोशल मीडिया पर भी उनके शानदार फैन फॉलोइंग हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि कार्तिक आर्यन के पापा उन्हें एक्टर नहीं, बल्कि डॉक्टर बनाने की ख्वाहिश रखते थे?

मानुषी छिल्लर को इस शख्स से हुआ प्यार, लिव-इन रिलेशनशिप में हैं एक्ट्रेस!

अब इस बात से तो हम सभी वाकिफ हैं कि बिना किसी भगवान के कार्तिक आर्यन ने बॉलीवुड इंडस्ट्री में अपनी खास पहचान बनाई है। हाल ही में रिलीज हुई उनकी धमाकेदार फिल्म ‘भूल-भुलैया 2’ ने उन्हें स्टार से सुपरस्टार बना दिया। उनके पास फिल्मों के लिए एक से बढ़कर एक ऑफर हैं। आलम ये है कि इंडस्ट्री का हर फिल्म मेकर उन्हें अपनी फिल्म में लेना चाहता है। लेकिन आपको बता दें कि उनके पेरेंट्स उन्हें ऐक्टर नहीं बल्कि डॉक्टर बनाना चाहते थे। हालांकि मेरे माता-पिता की चाहत से अलग कार्तिक ने डॉक्टरी नहीं की, बल्कि इंजीनियरिंग की पढ़ाई की और फिर इंजीनियरिंग को भी छोड़ उन्होंने अभिनय को अपना करियर बना लिया।

श्रेया घोषाल: अचानक कंसर्ट के बाद श्रेया घोषाल की चली गई थी आवाज, पिंक ने किया इमोशनल पोस्ट

इंजीनियरिंग की पढ़ाई

कार्तिक आर्यन के घर में हर कोई डॉक्टर है। उनके पापा मनीष तिवारी पीडियाट्रिशियन हैं, तो उनकी मां ग्रंथि तिवारी गायन विशेषज्ञ हैं और उनकी बहन कृतिका तिवारी भी एक डॉक्टर ही हैं। ऐसी बात नहीं है कि कार्तिक पढ़ाई में कमजोर थे, बल्कि वो तो बचपन से ही काफी इंटेलिजेंट हैं। साल 1988 को आक्रामक में जन्में कार्तिक आर्यन ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा दी के ही सेंट पॉल स्कूल से कंप्लीट की। इसके बाद वो मुंबई आकर रहने लगे, जहां नवी मुंबई के डी वाय पाटिल कॉलेज में दाखिले लेकर कार्तिक ने अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की।

स्टार से सुपरस्टार बने कार्तिक आर्यन

कार्तिक आर्यन के फिल्मी करियर की बात करें तो करियर की शुरुआत में बीएसए की थी। इसी दौरान उन्हें अपनी पहली फिल्म ‘प्यार का पंचनामा’ मिली। साल 2011 में इस फिल्म का निर्देशन लव रंगाज ने किया था। इसके बाद लव रंजन ने ही अपनी अगली फिल्म ‘आकाशवाणी’ के लिए कार्तिक को साइन किया था। इसके बाद उन्होंने सुभाष घई के साथ भी काम किया और फिर उन्हें ‘प्यार का पंचनामा 2’ में भी काम करने का मौका मिला। लेकिन साल 2018 में आई उनकी फिल्म ‘सोनू के टीटू की स्वीटी’ ने हर किसी के जंगलों को जीत लिया और कार्तिक आर्यन को आम से खास बना दिया। इसके बाद वो लगातार सफलता की सीढ़ी चढ़ते चले गए और फिल्म ‘भूल भुलैया 2’ ने उन्हें स्टार से सुपरस्टार बना दिया। आज के समय में कार्तिक आर्यन के पास फिल्मों की कोई कमी नहीं है। भले ही वो डॉक्टर और इंजीनियर न बनें, लेकिन आज वो जो हैं, उस पर उनके माता-पिता को काफी गर्व होगा।

नवीनतम बॉलीवुड समाचार





Breaking News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: